श्रावण मास में स्वयम्भू भुवनेश्वर महादेव की ब्रह्म मुहूर्त में पूजा अर्चना

On

डूँगरपुर।। करोली के नजदीक आदिकाल के भुवनेश्वर शिवालय पर ब्रम्ह मुहूर्त में शिव भक्तों द्वारा डूँगरपुर नगर से प्रातः 04 बजे 13 किलोमीटर जाकर रोजाना स्वयम्भू भगवान भोलेनाथ की सोढशोपचार विधि से नाना प्रकार की पूजन सामग्री एवम सुंगंधित द्रव्यों से पूजा की जाती है।पूजन के बाद दूध,गंगाजल,भांग,अनार रस, गन्ने के रस से भगवान भोलेनाथ का रुद्राभिषेक किया जाता है। पूजन के बाद प्रतिदिन भगवान शिव का अलग अलग मनमोहक श्रृंगार किया जाता है।श्रावण मास की एकम से ये पूजा प्रारम्भ की जाती है जो पूरे महीने अनवरत चलती है।जितेंद्र जोशी के आचार्यवत में जिग्नेश श्रीमाल, मयंक श्रीमाल, नितिन चेतन लाल श्रीमाल, राहुल श्रीमाल,इंदरलाल पंवार, जगदीश पटेल, पंकज कलाल द्वारा प्रतिदिन स्वयम्भू भुवनेश महादेवजी की मासीक पूजा की जाती है जो कई वर्षों से की जाती रही है।

Join Wagad Sandesh WhatsApp Group

Advertisement

Related Posts

Latest News

हाथों में जूते लेकर नाला पार करते नजर आए कैबिनेट मंत्री बाबूलाल खराड़ी, 700 मीटर पैदल चले, पीछे चलते रहे सुरक्षागार्ड हाथों में जूते लेकर नाला पार करते नजर आए कैबिनेट मंत्री बाबूलाल खराड़ी, 700 मीटर पैदल चले, पीछे चलते रहे सुरक्षागार्ड
उदयपुर । राजस्थान के कैबिनेट मंत्री बाबूलाल खराड़ी का एक वीडियो सामने आया है। इसमें खराड़ी हाथों में जूता लिया...

Advertisement

आज का ई - पेपर पढ़े

Advertisement

Advertisement

Contact Us

Latest News

Advertisement

Live Cricket

वागड़ संदेश TV