पेपरलीक मास्टरमाइंड सारण की प्रेमिका का PTI में सिलेक्शन : वेरिफिकेशन कराया तो सारण की प्रेमिका का पता चला, आनन-फानन में निरस्त किया

On

वरिष्ठ अध्यापक पेपर लीक के मास्टर माइंड भूपेंद्र सारण का अब पीटीआई भर्ती से भी कनेक्शन सामने आया है। सारण की प्रेमिका प्रियंका विश्नोई का पीटीआई भर्ती में चयन हो गया था, लेकिन रिजल्ट जारी करने से ठीक पहले परिणाम की जांच में प्रियंका का नाम आते ही राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड ने चयन निरस्त कर दिया।

पिछले साल दिसंबर माह में सारण के जयपुर स्थित ठिकानों पर पुलिस की दबिश में कई विश्वविद्यालयों की फर्जी डिग्रियां मिली थी, तब प्रियंका को मानसरोवर स्थित किराए के मकान से गिरफ्तार किया था। यहां प्रियंका के पास ओपीजेएस विवि की डिग्री थी।

पीटीआई भर्ती के चयनितों के दस्तावेजों की जांच शिक्षा विभाग ने 10 टीमें लगाकर 2 से 16 दिसंबर, 2022 तक जयपुर स्थित गुरुनानक संस्थान में की थी। यहां 6 दिसंबर को तीसरे नंबर की टीम ने प्रियंका के दस्तावेजों की जांच की थी। उधर, बोर्ड ने करीब 300 अभ्यर्थियों की डिग्री को फर्जी मानते हुए चयन रोक लिया।

rpscpaperleakcase-1672214314

वेरिफिकेशन कराया तो सारण की प्रेमिका का पता चला

शिक्षा विभाग की टीम ने लापरवाही बरतते हुए दस्तावेज सत्यापन के बाद प्रियंका विश्नोई के दस्तावेजों को सही मानते हुए इसका नाम चयन सूची में भेज दिया। परिणाम जारी करने से ठीक पहले जब राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड ने चयनित अभ्यर्थियों की सूची देखी तो प्रियंका का नाम सामने आया।

इस नाम को देखकर बोर्ड के अधिकारी चौंक गए। उन्होंने तुरंत पुलिस से इसका वेरिफिकेशन कराया तो यह सारण की प्रेमिका ही निकली। इसके बाद बोर्ड ने तुरंत इसका चयन निरस्त कर दिया।

पात्र अभ्यर्थियों की सूची तैयार करने में विभाग ने की गलती

शिक्षा विभाग ने 2 से 16 दिसंबर तक दस्तावेज सत्यापन किए। इसके बाद 24 दिसंबर को वरिष्ठ अध्यापक भर्ती का पेपर लीक हो गया और 27 दिसंबर को भूपेंद्र सारण की प्रेमिका प्रियंका विश्नोई को गिरफ्तार किया। शिक्षा विभाग ने 13 जनवरी को अंतिम चयन सूची बोर्ड को भिजवाई थी, लेकिन इसको अपडेट नहीं की और प्रियंका का नाम भी भेज दिया।

इन विश्वविद्यालयों की सख्ती से जांच होगी

बोर्ड ने 12 विवि की सूची शिक्षा विभाग को भेजी है। ओपीजेएस विवि चूरू, सिंघानिया झुंझुनूं, सनराइज अलवर, जेएस शिकोहाबाद यूपी, चौधरी देवीलाल हरियाणा, रणवीर सिंह जींद, गोडवाना गढ़ चिरोली, आरटीएम नागपुर, टांटिया गंगानगर, बीआर अंबेडकर आगरा, एचएनबीजी गढ़वाल, इंदिरा गांधी विवि मीरपुर की डिग्रियों की जांच के निर्देश दिए हैं।

दस्तावेज सत्यापन के बाद शिक्षा विभाग से मिली योग्य अभ्यर्थियों की सूची की जांच करते समय प्रियंका विश्नोई का नाम सामने आया। इसका पुलिस से वेरिफिकेशन कराया। इसके बाद उसका चयन निरस्त कर दिया, इसे डिबार भी किया जाएगा।- -हरि प्रसाद शर्मा, अध्यक्ष, राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड

Join Wagad Sandesh WhatsApp Group

Advertisement

Related Posts

Latest News

पर्यावरण संरक्षण : गामडा ब्राह्मणीया में 1356 पौधे लगाने का लक्ष्य पर्यावरण संरक्षण : गामडा ब्राह्मणीया में 1356 पौधे लगाने का लक्ष्य
सागवाड़ा | जिला कलेक्टर एवं मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी डूंगरपुर के आदेशानुसार सघन वृक्षारोपण अभियान की तैयारी के तहत पीईईओ...

Advertisement

आज का ई - पेपर पढ़े

Advertisement

Advertisement

Contact Us

Latest News

Advertisement

Live Cricket

वागड़ संदेश TV