गौ माता का संकल्प यात्रा का भव्य स्वागत

On

ओबरी। उपतहसील मुख्यालय पर गौ माता संकल्प यात्रा का भव्य स्वागत सोमवार को कस्बे के प्रवेश द्वार धत्ररेश्वर महादेव मंदिर पर सनातन धर्म प्रेमियों द्वारा किया गया। जहां रथ यात्रा का गाजे बाजे के साथ धत्ररेश्वर महादेव मंदिर से बस स्टेण्ड बाजर से होते हुए कस्बे का भ्रमण करवाया गया। भ्रमण करवाने के बाद रथ यात्रा ठाकुरजी मंदिर पहुंची जहां कथा का आयोजन किया गया। गो भक्त संत जगदीश गोपाल महाराज ने कहा कि गोरक्षकों की रक्षा स्वयं गोमाता करती है। हर भारतवासी का दायित्व है कि वह गोरक्षा के लिए कृत संकल्पित हों। दीक्षा गोरक्षा यानि गोरक्षा का संदेश प्रसारित करना ही हमारा ध्येय है। गोमाता प्रेम की साक्षात प्रतिमूर्ति। जिस घर में गोमाता रहती है, वहां सदैव प्रेम एवं समृद्धि रहती है। उस घर में रहने वाला हर व्यक्ति खुशहाल रहता है। आजादी के समय भारत में करीब 82 करोड़ गोवंश था जो घटकर अब मात्र आठ करोड़ से भी कम रह गया है। जो गोवंश बचा है वह भी अच्छी स्थिति में नहीं है। अधिकांश गोवंश बदहाल है। वर्तमान के दौर में समाज और परिवार का ताना-बाना बिखर रहा है, इन रिश्तों में दरार पड़ रही है जो निरन्तर गहरी हो रही है, यह बेहद घातक है। वर्तमान समय में परिवार में बेटा भले ही एक है पर चूल्हे दो जल रहे है। मां-बाप रोटी के लिए बेबस दिखाई देते हैं, यह चिंताजनक है। नई पीढ़ी को संस्कारवान बनाएं ताकि यह पीढ़ी परिवार, समाज राष्ट्र की सेवा कर सके। इस अवसर पर सनातन धर्म प्रेमी, करणी सेना, बजरंग दल के सदस्य मौजूद रहे। वहीं, रविवार को क्षेत्र के डेचा गांव में गौ माता संकल्प यात्रा का भव्य स्वागत किया गया। जहां भव्य महा आरती का आयोजन हुआ।

<iframe width=\”560\” height=\”315\” src=\”https://www.youtube.com/embed/Pz0SjqY-_FE\” title=\”YouTube video player\” frameborder=\”0\” allow=\”accelerometer; autoplay; clipboard-write; encrypted-media; gyroscope; picture-in-picture\” allowfullscreen></iframe>

Advertisement

Latest News

सिलोही में मूर्ति स्थापना एवं शिखर प्रतिष्ठा महोत्सव, श्रद्धालुओं ने हवन में समर्पित की आहुतियां सिलोही में मूर्ति स्थापना एवं शिखर प्रतिष्ठा महोत्सव, श्रद्धालुओं ने हवन में समर्पित की आहुतियां
गलियाकोट। सिलोही में छह मंदिरों की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर तीसरे दिन शनिवार को श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर दो श्री...

Advertisement

आज का ई - पेपर पढ़े

Advertisement

Advertisement

Latest News

Advertisement

Live Cricket

वागड़ संदेश TV