जय अम्बे पद यात्रा संघ टामटिया के 51 सदस्यों ने अम्बाजी मंदिर पर 51 मीटर की ध्वजा व रजत पादुका,आभूषण चढ़ाये

On

सागवाड़ा। ​जय अम्बे पद यात्रा संघ टामटिया का 51 सदस्यीय जत्था रजत, आभूषणों, ध्वज पताका लिए उत्तर गुजरात शक्तिपीठ अम्बाजी पहुँचा। संघ दलप्रभारी मुकेश प्रजापत ने बताया कि अम्बाजी मुख्यमन्दिर जाने के पूर्व पण्डित धर्मेश पण्डया द्वारा संघ माताजी मूर्ति पूजन करने के उपरांत अम्बाजी अर्पण करने वाले रजत आभूषण ध्वज पताका, आभूषणों की विधिविधान से वैदिक मंत्रों से षोडशोपचार विधि से अर्चन द्वारा करवाया गया। ततपश्चात विशेष श्रंगारित माताजी रथ की महाआरती करने के बाद माता की जयकारों के साथ ढोल नगाड़ों के साथ पदयात्रा दल द्वारा रजत,चरण पादुका पायजेब, बिच्छुडिया के साथ माताजी अलंकार सामग्रियों को लेकर दल राधे पैलेस से होता हुआ ,कामाक्षी मन्दिर, प्रजापति भवन,जूना बाजार सहित प्रमुख मार्ग शोभायात्रा का विशाल काफिला मुख्यमन्दिर अम्बाजी पहुँचा। जहाँ संघ के द्वारा रजताभूषण चढ़ाने की सोच पर मन्दिर ट्रस्ट से जुड़े व्यवस्था प्रभारी याग्निक भाई, कनु भाई पुजारी जयंती भाई जोशी ,सतीश भाई आदि द्वारा प्रशंसा की गयी। ततपश्चात अभिजीत मुहूर्त में गर्भगृह अंबाजी मुख्यपुजारी केतन भाई दवे के निर्देशानुसार पण्डित धर्मेश पण्डया द्वारा सभी रजताभूषणो का राजोपचार वैदिक मन्त्रो से पूजन विधि कर रजताभूषण मन्दिर ट्रस्ट में अर्पण किये गए। शक्तिपीठ अम्बाजी ट्रस्ट द्वारा संघ संचालक मुकेश प्रजापत के साथ दल सदस्यों का श्रीफल एवं उपरना ओढ़ा कर सम्मानित किया गया। कोविड 19 की महामारी से रथों की संख्या पूर्व तुलनात्मक कम रही फिर भी इस बार भी देश के विभिन्न स्थानों से आने वाले पदयात्रा संघ झांकियों में भी इलेक्ट्रिशियन हितेश पण्डया एवं डिजाइनर लोकेश प्रजापत के निर्देशन के अनुरूपपूर्व एक जैसी कोरोना महामारी से शांति की कामना लिए हरा पोशाक, अत्याधुनिक विशेष हाईटेक रथ ,लेपटॉप, इंवेटर चकाचौंध रोशनी से सुसज्जित श्रंगारित एवं चल-चिकित्सालय सुविधाओं से युक्त रथ समूचे देश से आये विभिन्न रथों मे से जय अम्बे पदयात्रा संघ टामटिया की सभी लोगो द्वारा भूरी भूरी प्रशंसा की गयी । इस अवसर पर कन्हैयालाल प्रजापत, राकेश पाटीदार,पंकज प्रजापत, दीपक प्रजापत ,भावेश प्रजापत रितेश पण्डया,रोशन भाटिया, दिलीप प्रजापत,घनश्याम प्रजापत, त्रिलोक एकोत,नयमेश व्यास,राहुल सुथार, मोहन प्रजापत रवि सुथार आदि सदस्य मौजूद रहे ।

<iframe width=\”560\” height=\”315\” src=\”https://www.youtube.com/embed/tajiNyCjECw\” title=\”YouTube video player\” frameborder=\”0\” allow=\”accelerometer; autoplay; clipboard-write; encrypted-media; gyroscope; picture-in-picture\” allowfullscreen></iframe>

Advertisement

Latest News

सिलोही में मूर्ति स्थापना एवं शिखर प्रतिष्ठा महोत्सव, श्रद्धालुओं ने हवन में समर्पित की आहुतियां सिलोही में मूर्ति स्थापना एवं शिखर प्रतिष्ठा महोत्सव, श्रद्धालुओं ने हवन में समर्पित की आहुतियां
गलियाकोट। सिलोही में छह मंदिरों की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर तीसरे दिन शनिवार को श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर दो श्री...

Advertisement

आज का ई - पेपर पढ़े

Advertisement

Advertisement

Latest News

Advertisement

Live Cricket

वागड़ संदेश TV