कच्ची बस्ती के पट्टे पहुँचे CMO तक ! जाँच शुरू भाजपा नेता और पार्षदों ने  कच्ची बस्ती में पट्टे लेकर  श्यामा प्रसाद मुखर्जी संस्थान के अध्यक्ष सांसद कनकमल कटारा को कर दिये थे बक्शीश,  

कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने प्रेस वार्ता में लगाए थे आरोप
On

फ़ाइल फ़ोटो

सागवाड़ा। सागवाड़ा नगर पालिका में वर्ष 2012 में भाजपा के बोर्ड में कच्ची बस्ती के नाम से पट्टों की बंदरबांट का मामला मुख्यमंत्री कार्यालय तक पहुँच चुका है। शुक्रवार देर शाम को  स्वायत्त शासन विभाग की ओर से इस संबंध में नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी से जानकारी चाही गई जिसके बाद नगर पालिका में भी हड़कंप मच गया। बताया जा रहा है कि यह मामला सीएमओ  तक पहुँच गया है। डीडीआर की ओर से माँगी गई जानकारी के बाद देर शाम तक नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी पट्टों के संबंध में पत्रावलियों एकत्र करते रहे। 

WhatsApp Image 2022-12-18 at 5.30.52 PM
कांग्रेस के निवर्तमान जिला अध्यक्ष दिनेश खोडनिया, पालिका अध्यक्ष नरेंद्र खोडनिया और उपाध्यक्ष राजु मामा शेख की मौजूदगी में आयोजित एक प्रेस वार्ता में भाजपा बोर्ड में कच्ची बस्ती के नाम पर नगर की बेशकीमती भूमि के पट्टे बनाने का आरोप लगाया था। बताया  था कि भाजपा नेताओं  ने करीब 7500 स्क्वायर फीट भूमि को वर्ष 2012 में कच्ची बस्ती के नाम पर झूठा शपथ पत्र देकर  ले लिया। उसके बाद उक्त भूमि को वर्तमान सांसद कनकमल कटारा जो कि डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी संस्थान सागवाड़ा के अध्यक्ष हैं उनके नाम बक्शीश रजिस्ट्री कर दी गई। इधर, इस पूरे मामले को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो में भी सौंपने की बात कही जा रही थी लेकिन वहाँ से भी तक कोई पत्रावलियों नहीं आयी है। इसके अलावा इन पट्टों को निरस्त कराने के लिए कोर्ट का सहारा लिए जाने की बात भी की जा रही थी लेकिन ऐसा भी अभी तक कुछ होता नज़र नहीं आया है हालाँकि अब सीएमओ की दख़लंदाज़ी के बाद इस संभावना है कि इस पूरे मामले की जाँच नगर पालिका की ओर से की जाएगी। बताया जा रहा है कि डीडीआर की ओर से अभी तक सिर्फ़ जो अख़बार में ख़बरें छपी है उसके आधार पर जानकारी चाही गई है और जाँच के आदेश नहीं दिया गया है। स्वायत्त शासन विभाग की ओर से जाँच के आदेश दिए जाने के बाद ही नगरपालिका इस संबंध में जाँच करेगी। 
यह है मामला
दिनेश खोडनिया के अनुसार वर्ष 2012 में भाजपा के नगर अध्यक्ष श्याम भट्ट, पार्षद रजनीश व्यास और भाजपा नेता प्रवीण गोगरोत ने 2500-2500 स्क्वायर फीट के तीन पट्टे कच्ची बस्ती में लिए थे। तीनों ने कच्ची बस्ती में जो पट्टा लिया है वो झूठा शपथ पत्र देकर लिया है। इसके बाद भाजपा के तीनों नेताओं ने 2019 में अपनी भूमि डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी संस्थान सागवाड़ा के अध्यक्ष वर्तमान सांसद कनकमल कटारा के नाम पर बख्शीश कर दी। इस दौरान भी सागवाडा नगर पालिका में भाजपा का बोर्ड था। खोडनिया ने बताया  था कि तत्कालीन भाजपा बोर्ड में करीब 400 पट्टे कच्ची बस्ती में आवंटित किए गए थे जिसमें 200 पट्टे ऐसे हैं जिसमें बंदरबाँट की गई।

Advertisement

Latest News

सिलोही में मूर्ति स्थापना एवं शिखर प्रतिष्ठा महोत्सव, श्रद्धालुओं ने हवन में समर्पित की आहुतियां सिलोही में मूर्ति स्थापना एवं शिखर प्रतिष्ठा महोत्सव, श्रद्धालुओं ने हवन में समर्पित की आहुतियां
गलियाकोट। सिलोही में छह मंदिरों की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर तीसरे दिन शनिवार को श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर दो श्री...

Advertisement

आज का ई - पेपर पढ़े

Advertisement

Advertisement

Latest News

Advertisement

Live Cricket

वागड़ संदेश TV