4 साल पहले सागवाडा में कोचिंग हब बनाने की घोषणा का क्या हुआ ? मंत्री बोले- ज़मीन मिले तो काम शुरू करें

4 सालो में सागवाडा को नहीं मिल पाई कोचिंग सेंटर के लिए भूमि
On

सागवाडा। जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग के मंत्री अर्जुन बामणिया गुरुवार को सागवाडा के दौरे पर रहे । इस दौरान मंत्री बामणिया पत्रकारों से रूबरू होते हुए पूछे गए सवालों का जवाब देते हुए कहा कि पिछले चार सालों में विभाग द्वारा सागवाडा क्षेत्र में विकास के कई कार्य किए गए हैं। 

सवाल : मुख्यमंत्री ने अपनी पहली बजट घोषणा में ही सागवाडा को कोचिंग हब बनाने की घोषणा की थी, लेकिन उस संबंध में आज तक कुछ भी नहीं हुआ है। सरकार की पहली घोषणा में ही सागवाडा को कोचिंग हब बनाने की बात की गई थी उसका अब तक क्या हुआ ? 
जवाब : जिस पर मंत्री बामणिया ने कहा कि यह बात सही है कि सागवाडा में बहुउद्देशीय कोचिंग सेंटर खोलना है लेकिन उसके लिए अभी तक ज़मीन नहीं मिली है। उस कि NIT भी लग गई है और ज़मीन मिलते ही काम शुरू कर देंगे। 

सवाल : पत्रकारों ने पूछा कि दो साल कोरोना के निकल गए, जनजातीय छात्रावास के बच्चों को शीतकालीन सत्र में विजिट के लिए ले जाते थे, इस बार बजट का अभाव बताया जा रहा है ?
जवाब : इस पर बामणिया ने कहा कि बज़ट में कोई अभाव नहीं है, इस साल भी ले जाएंगे। अभी सांस्कृतिक कार्यक्रम स्टेट लेवल का हुआ था, और नेशनल लेवल पर भी ले जाएंगे। कोई चीज ऐसी नहीं होगी कि विभाग को कोई कटौती करें। जहां तक कोरोना का सवाल है, पूरे विश्व में कोरोना था। कोरोना से हमारे रूटिंग के कार्यों में व्यवधान जरूर हुआ है। 

सवाल : जनजातीय छात्रावासों में सब्जी और दूध का बजट नहीं आ रहा है उधार पर चल रहे हैं ? 
जवाब : बामणिया ने कहा ऐसा नहीं हो सकता, बजट भी आ रहा है, कहीं बिल की वजह से कोई चीज हुई होगी, किसी तरह की कोई कटौती नहीं हो रही है।

सवाल : रीट भर्ती परीक्षा में पद बढ़ाने की मांग चल रही है, जनजाति क्षेत्रों में जो पद हैं वह कम दिए गये हैं।
जवाब : जिस पर बामणिया ने कहा ऐसी बात नहीं है, मैं आज जा रहा हूं मेरी कल प्रिंसिपल एजुकेशन सेक्रेट्री से बात हुई है, तो डीओपी और उन दोनों के कम्युनिकेशन  में थोड़ा सा गेप है। जिस कारण टेक्निकल प्रॉब्लम हुई है। वह आने वाले समय में दो-चार दिन में सुधर जाएगी। जितनी मात्रा में यहां भर्ती होनी थी वह हो जाएगी।

सवाल : वही बामणिया से पत्रकारो ने पूछा कि सरकार के 4 वर्ष पूर्ण हो गए है जनजातीय विभाग की ओर से सागवाड़ा में कोई बड़ा विकास कार्य क्या हुआ है ? 
जवाब : जिस पर बामणिया ने कहा सागवाड़ा में सरकार ने 5 करोड़ की लागत से सांस्कृतिक भवन दिया है।

सवाल : जिस पर पत्रकारो ने कहा कि क्या भवन बनकर तैयार है ? 
जवाब : मंत्री बामणिया ने कहा कि विभाग को जमीन की तकलीफ होना बताया।

Join Wagad Sandesh WhatsApp Group

Advertisement

Latest News

पर्यावरण संरक्षण : गामडा ब्राह्मणीया में 1356 पौधे लगाने का लक्ष्य पर्यावरण संरक्षण : गामडा ब्राह्मणीया में 1356 पौधे लगाने का लक्ष्य
सागवाड़ा | जिला कलेक्टर एवं मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी डूंगरपुर के आदेशानुसार सघन वृक्षारोपण अभियान की तैयारी के तहत पीईईओ...

Advertisement

आज का ई - पेपर पढ़े

Advertisement

Advertisement

Contact Us

Latest News

Advertisement

Live Cricket

वागड़ संदेश TV